Skip to Main Content Screen Reader Access | Version - हिंदी English | Font Size - A+ A A- | Zoom - 80%  100%  120% 
ABC
  अतिरिक्त/ पत्र/ परिपत्र की जानकारी   Provisional List
विभागीय लिंक fb     twitter     G+
सम्पूर्ण परिचय
DEF   नाम :- श्रीमती रमशीला साहू (माननीय मंत्री)
  पति/पिता का नाम :- डॉ. दयाराम साहू
  जन्मतिथि :- 22 सितम्बर 1960
  शैक्षणिक योग्यता :- बी.ए., आयुर्वेद रत्न
  निवासी :- ग्राम उमरपोटी, जिला दुर्ग (छत्तीसगढ़)
  वर्तमान पता :- सी-2 सिविल लाईन, शंकर नगर, रायपुर
 
  संक्षिप्त परिचय :- व्यवसाय-चिकित्सा एवं कृषि, विशेष उपलब्धियां- वर्ष 1994 में जनपद पंचायत गुण्डरदेही के अध्यक्ष, वर्ष 2003 में गुण्डरदेही विधानसभा क्षेत्र और वर्ष 2013 में दुर्ग ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र से विधायक। वर्ष 2003 से 2008 के दौरान छत्तीसगढ़ शासन में संसदीय सचिव रहे। वर्तमान में समाज कल्याण विभाग के साथ-साथ महिला एवं बाल विकास विभाग के भी मंत्री है|
नेतृत्व
MantriJi
श्रीमती रमशीला साहू
माननीय मंत्री
समाज कल्याण विभाग छत्तीसगढ़ शासन
सम्पूर्ण परिचय
उपलब्धियां
छत्तीसगढ़ निःशक्तजन वित्त एवं विकास निगम को वर्ष-2010 में सर्वश्रेष्ठ चैनलाईजिंग एजेंसी का राष्ट्रीय पुरस्कार
 
   
   
महत्वपूर्ण लिंक
bulletसामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय
bulletई-पंचायत छत्तीसगढ़
bulletराष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम(NSAP)
bulletग्रामीण विकास मंत्रालय (भारत सरकार)
bulletई-कोष ऑनलाइन
bulletशासकीय वेबसाइट छत्तीसगढ़ शासन
bulletसामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय (भारत सरकार)
bulletभारतीय पुनर्वास परिषद
bulletराष्ट्रीय विकलांग वित्त एवं विकास निगम (एनएचएफडीसी)
bulletराष्ट्रीय न्यास
समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है समाज कल्याण विभाग के पोर्टल में आपका स्वागत है
नि:शक्त जन पंजीयन स्थिति एवं पावती प्राप्त करें आवेदन कैसे करें
Welcome to Social Welfare ( प्रस्तावना )
DEF


छत्तीसगढ़ निराश्रितों एवं निर्धन व्यक्तियों की सहायता अधिनियम 1970 यथा संशोधित 2010 के प्रावधानों के अनुरूप निराश्रित, निर्धन, निःशक्त, एवं वरिष्ठ नागरिकों के सामाजिक एवं आर्थिक पुनर्वास हेतु सहायता प्रदान की जा रही हैं। समाज कल्याण विभाग को तृतीय लिंग व्यक्तियों के कल्याणार्थ योजनाएं संचालित करने हेतु नोडल विभाग के रूप में अधिकृत किया गया है। उनके लिए कौशल उन्नयन की परियोजनाओं (ब्यूटी पार्लर, केटरिंग, फैशन डिजाइन, टेलरिंग आदि) हेतु तृतीय लिंग के स्वसहायता समूहों को अनुदान स्वीकृत किये जाने का प्रावधान रखा गया है। 60 वर्ष या इससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को पात्रतानुसार राज्य के बाहर विभिन्न तीर्थस्थलों की निःशुल्क यात्रा के लिए ‘‘छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना’’ दिनांक 04 दिसम्बर, 2012 से प्रारंभ की गई है। इस योजना के अन्तर्गत वरिष्ठ नागरिकों को उनके जीवनकाल में एक बार लाभान्वित किया जाएगा। इसी क्रम में निःशक्त व्यक्तियों को भी तीर्थाटन कराया जा रहा है। निःशक्त व्यक्ति (समान अवसर, अधिकारों का संरक्षण एवं पूर्ण भागीदारी) अधिनियम 1995 के अनुसार निःशक्त व्यक्तियों के सामाजिक एवं आर्थिक पुनर्वास तथा उन्हें संसाधन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सर्वसुविधायुक्त क्षेत्रीय पुनर्वास केन्द्र की स्थापना की गई है। निःशक्तजनों को शासकीय सेवा में नियुक्ति प्रदान करने के उद्देश्य से उनके लिए पदों का चिन्हांकन कर नियम प्रवृत्त किया गया है। उनकी निःशक्तता कम करने एवं चलनशीलता को गतिमान प्रदान करने के उद्देश्य से प्रत्येक जिले में वृहद शिविरों का आयोजन कर कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण प्रदान किये जा रहे हैं। निःशक्तजनों के लिए राज्य में 19 शासकीय एवं 39 स्वैच्छिक संस्थाओं के माध्यम से निःशुल्क आवासीय शिक्षण प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। निःशक्त व्यक्तियों के सामाजिक पुनर्वास हेतु विभाग द्वारा निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना अन्तर्गत राशि रू. 21000/- प्रति जोड़े प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है। विभाग द्वारा संचालित पेंशन योजनाओं से प्रदेश के लगभग 16 लाख 53 हजार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे वृद्ध, विधवा एवं परित्यक्त महिलाएं, नि:शक्त व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा रहा है। वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 के अन्तर्गत राजस्व अनुविभाग स्तरों पर भरण-पोषण अधिकरणों तथा जिला स्तर पर अपीलीय अधिकरण का गठन किया गया है।

60 वर्ष या इससे अधिक आयु के वरिष्ठ नागरिकों को पात्रतानुसार राज्य के बाहर विभिन्न तीर्थस्थलों की निःशुल्क यात्रा के लिए ‘‘छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना’’ दिनांक 04 दिसम्बर, 2012 से प्रारंभ की गई है। इस योजना के अन्तर्गत वरिष्ठ नागरिकों को उनके जीवनकाल में एक बार लाभान्वित किया जाएगा। इसी क्रम में निःशक्त व्यक्तियों को भी तीर्थाटन कराया जा रहा है।

निःशक्त व्यक्ति (समान अवसर, अधिकारों का संरक्षण एवं पूर्ण भागीदारी) अधिनियम 1995 के अनुसार निःशक्त व्यक्तियों के सामाजिक एवं आर्थिक पुनर्वास तथा उन्हें संसाधन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से सर्वसुविधायुक्त क्षेत्रीय पुनर्वास केन्द्र की स्थापना की गई है। निःशक्त जनों को शासकीय सेवा में नियुक्ति प्रदान करने के उद्देश्य से उनके लिए पदों का चिन्हांकन कर नियम प्रवृत्त किया गया है। उनकी निःशक्तता कम करने एवं चलनशीलता को गतिमान प्रदान करने के उद्देश्य से प्रत्येक जिले में वृहद शिविरों का आयोजन कर कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण प्रदान किये जा रहे हैं। निःशक्त जनों के लिए राज्य में 19 शासकीय एवं 39 स्वैच्छिक संस्थाओं के माध्यम से निःशुल्क आवासीय शिक्षण प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है। निःशक्त व्यक्तियों के सामाजिक पुनर्वास हेतु विभाग द्वारा निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना अन्तर्गत राशि रू. 21000/- प्रति जोड़े प्रोत्साहन राशि प्रदान की जा रही है।

विभाग द्वारा संचालित पेंशन योजनाओं से प्रदेश के लगभग 16 लाख 53 हजार गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहे वृद्ध, विधवा एवं परित्यक्त महिलाएं, नि:शक्त व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा रहा है। वरिष्ठ नागरिकों की सुरक्षा के लिए माता-पिता एवं वरिष्ठ नागरिकों का भरण-पोषण तथा कल्याण अधिनियम 2007 के अन्तर्गत राजस्व अनुभाग स्तरों पर भरण-पोषण अधिकरणों तथा जिला स्तर पर अपीलीय अधिकरण का गठन किया गया है।

निःशक्त जनों के प्रमाणीकरण की स्थिति
1) कुल निःशक्तजन (जनगणना 2011 के अनुसार) 6,24,937
2) जारी प्रमाण पत्र 2,27,193
3) अपात्र (40 प्रतिशत से कम) 82,520
4) कुल प्रमाणीकृत निःशक्तजन (3+4) 3,09,713

Login लॉगिन करें !

Login रजिस्टर करें !

Total नि:शक्त जन आवेदन की जानकारी !
विडियो
 महत्वपूर्ण सूचना
pain
लोकसभा अतारांकित प्रश्न क्रमांक 1617 - वृद्धा पेंशन योजना विषयक |  
pain
निविदा प्रसारित किये जाने बाबत् |  
pain
अभिरुचि की अभिव्यक्ति आमंत्रण
pain
दिनांक 21 एवं 22 जनवरी 2015 को आयोजित संभागीय बैठक का कार्यवाही विवरण
more
   

Site Content Provided by:
Directorate Of Social Welfare


Site Designed , Developed & Hosted by:

NIC